मुख्य पृष्ठ » त्यौहार
त्यौहार

नवरात्रे

यह त्यौहार ९ दिन तक चलता है इसलिए इसे नवरात्र कहा जाता है और इस त्यौहार में देवी माँ की पूजा-अर्चना की जाती है| नवरात्र का प्रत्येक दिन नौ देवियों के सम्मान में मनाया जाता है| माता दुर्गा के विभिन्न नाम निमन्लिखित हैं:-

  • शैलपुत्री
  • ब्रह्मचारिणी
  • चंद्रघंटा
  • कुष्मांडा
  • स्कंदमाता
  • कात्यायनी
  • कालरात्रि
  • महागौरी
  • सिद्धिदात्री

चैत्र नवरात्री - अप्रैल ४, २०११ से अप्रैल १२, २०११
असुज नवरात्री- सितम्बर २८, २०११ से अक्टूबर ५, २०११

मकर सक्रांति

मकर सक्रांति देश के लगभग सभी राज्यों में अलग - अलग सांस्कृतिक रूपों में मनाई जाती है| लोग भगवान सूर्य का आशीर्वाद लेने के लिए गंगा  और प्रयाग जैसी पवित्र  नदियों में डुबकियाँ लगाते हैं| दक्ष्णि भारत में मकर सक्रांति पोंगल के नाम से,पंजाब में माघी, गुजरात में उत्तरायण और असाम में माघ बिहू के नाम से मनाई जाती है| यह उत्सव  जनवरी  में आता   है|

वसंत पंचमी

यह त्यौहार माता सरस्वती जी के सम्मान में मनाया जाता है, इस त्यौहार के दिन हर तरफ पीला रंग फैला हुआ होता है| देवी माँ को पीले रंग के वस्त्र पहनाये जाते हैं तथा पूजा और यज्ञ किया जाता है| लोग पीले रंग के वस्त्र पहनते हैं और अपने दोस्तों व रिश्तेदारों में पीले रंग की मिठाइयाँ बाँटते हैं| यह त्यौहार फरबरी  में आता   है|

महा शिवरात्रि

यह त्यौहार भगवान शिव और माता पार्बती के सम्मान में मनाया जाता है, इसे भगवान शिव की महा रात्रि के रूप में भी जाना जाता है| कुछ लोग इस दिन व्रत रखते हैं और कुछ लोग श्लोक पढ़ते हैं और भजन गाते हैं| समारोह और पूजा  देर रात तक चलती है और भगवान शिव और माँ पार्वती को फल ,नारियल,गंगा जल और बिल पत्र चढ़ाये जाते हैं| यह त्यौहार मार्च  में आता है|

होली

होली का त्यौहार बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतिक माना जाता है| किंवदंतियों के अनुसार, दानव हिरान्यकशिप अपने बेटे प्रहलाद को मारना चाहता था क्योंकि वह भगवान विष्णु का भक्त था| इसलिए, उसने अपनी बहन होलिका के साथ पुत्र को मारने की योजना बनाई|  होलिका ने प्रहलाद को मारने की कोशिश की और उसके साथ आग में बैठ गई| वह आग में जल कर मर गई और प्रहलाद बच गया| यह त्यौहार  मार्च में आता   है|

राम नवमी

यह त्यौहार भगवान विष्णु के सातवें जन्म के उपलक्ष्य में मनाया जाता है, भगवान श्री राम जो चैत्र मास के नौवें दिन पैदा हुए थे| श्री राम ने दानव राजा रावण को मारा था| यह त्यौहार अप्रैल में आता है |

रक्षाबंधन

रक्षाबंधन के त्योहार का अर्थ भाई और बहन के बंधन को और मजबूत करना है| अभी तक परंपरागत तरीके से बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांध  कर प्यार व्यक्त करती है| बदले में, भाई बहन से हमेशा के लिए रक्षा का वादा करता है और उसे उपहार देता है| यह त्यौहार अगस्त में आता है|

श्री कृष्ण जन्माष्टमी

यह त्यौहार कृष्ण जयंती और कृष्णाष्टमी के नाम से भी प्रसिद्ध है, यह त्यौहार भगवान श्री कृष्ण के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है| यह त्यौहार अगस्त में आता है|

गणेश चतुर्थी

यह त्यौहार भगवान गणेश के सम्मान में मनाया जाता है, जोकि हिंदू देवताओं के सबसे लोकप्रिय और अच्छे भाग्य के प्रतीक माने गये हैं| गणेश चतुर्थी को भगवान गणेश को दूध और लडूओं का भोग लगाया जाता है| यह त्यौहार नवंबर में आता है|

दशहरा

यह त्यौहार विजया दशमी के नाम से भी जाना जाता है,दशहरा सतयुग में श्री राम के रावण पर विजय के रूप में मनाया जाता है| दानव महिषासुर को भी माँ दुर्गा ने इसी दिन मारा था| यह त्यौहार अक्तूबर में आता है|

करवा चौथ

इस दिन विवाहित स्त्रियाँ अपने पति की दीर्घ आयु की कामना के लिए बिना भोजन और पानी के कठिन व्रत रखती हैं| आजकल, अविवाहित लड़कियां भी अच्छे जीवन-साथी की प्राप्ति के लिए इस व्रत को रख रही हैं| यह त्यौहार उत्तर भारत में ज्यादातर मनाया जाता है और अक्तूबर मास में आता है|

दीपावली

दीपावली या दीवाली भगवान राम के १४ वर्ष के बनवास से वापसी का प्रतीक है| दीवाली की रात रोशनी और आतिशवाजी के द्वारा मनाई जाती है| यह त्यौहार अक्तूबर में आता है|

नए साल की शाम

हर साल, नए साल की शाम मंदिर में काफी उत्साह के साथ मनाई जाती है| सारा मंदिर परिसर श्री नैना देवी जी की विशेष पूजा के लिए विशेष रूप से सजाया जाता है|